बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को पंजाब से लाने के लिए बांदा पुलिस की एक टीम सोमवार सुबह वज्र वाहन से रवाना हो गई है। पुलिस के साथ मेडिकल टीम भी रवाना हुई। इस दौरान सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। बांदा जेल में भारी संख्या में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है।

मुख्तार को लाने के लिए गई टीम में पीएसी की भी एक बटालियन शामिल है। हालांकि इस पूरे मिशन को लेकर कोई भी अधिकारी फिलहाल कुछ कहना नहीं चाह रहे हैं। यानी पूरी तरह से गोपनीयता बरती जा रही है। वहीं, बांदा जेल को अभेद किले में तब्दील कर दिया गया है।

प्रवेश और निकास द्वार पर सीसीटीवी कैमरे लगे हुए हैं जिनपर कड़ी नजर रखी जा रही है। मुख्तार की सुरक्षा-व्यवस्था में कोई चूक न होने पाए। इसके लिए जेल बाउंड्रीवॉल पर हर 10 से 15 फिट की दूरी पर सुरक्षा कर्मियों की तैनाती गई है।

पंजाब के लिए रवाना हुई बांदा पुलिस की गाड़ियां सायरन बजाती हुई जब फतेहपुर के बिंदकी क्षेत्र की सड़क से निकली तो लोगों की नजरें काफिले पर टिक गईं। सौ से अधिक पुलिसकर्मी, वज्र वाहन, बुलेट प्रूफ कार व डॉक्टरों की टीम से लैस यह काफिला दोपहर को फतेहपुर से निकला।