मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले के बड़नगर विधानसभा से कांग्रेस विधायक मुरली मोरवाल के बेटे करण पर खिलाफ पुलिस ने दुष्कर्म का मामला दर्ज किया है। युवा कांग्रेस की एक महिला ने विधायक के बेटे पर शादी का झांसा देकर यौन शोषण करने का आरोप लगाया था। विधायक ने अपने बेटे पर लगाए गए आरोपों को झूठा बताया, लेकिन राज्य की युवा कांग्रेस यूनिट ने इस मामले की जांच के लिए एक कमेटी बना दी ह
इंदौर के महिला पुलिस थाने की एक अधिकारी ने कहा कि विधायक के बेटे के खिलाफ शुक्रवार की शाम एफआइआर दर्ज की गई। शिकायत दर्ज कराने वाली महिला ने आरोप लगाया है कि आरोपित ने शादी का झांसा देकर इस साल फरवरी माह में उसके साथ दुष्कर्म किया। विधायक ने बेटे को फंसाए जाने की बात कही है।

इंदौर में एक कार्यक्रम के दौरान हुई थी दोनों की मुलाकात

शिकायत में महिला ने कहा कि वह इंदौर में एक कार्यक्रम के दौरान विधायक के बेटे से मिली। इसके बाद वे दोस्त बन गए और दोनों शहर में उसके फ्लैट में कई मौकों पर मिलते थे। महिला ने आरोप लगाया कि आरोपी ने शादी के बहाने उसके साथ दुष्कर्म किया, लेकिन बाद में उसने शादी करने से इनकार कर दिया। आरोप है कि पीड़िता के बार-बार शादी का आग्रह करने पर आरोपित मुकर गया औऱ उसे जान से भी मारने की धमकी दी।

आइपीसी की धारा 376 के तहत पुलिस ने किया मामला दर्ज

महिला पुलिस स्टेशन की एक अधिकारी ज्योति शर्मा ने कहा कि शुक्रवार को इंदौर की रहने वाली महिला ने थाने में आकर कहा कि करण मोरवाल ने उसके साथ दोस्ती की और शादी के बहाने उसके साथ यौन उत्पीड़न किया। बाद में उससे शादी करने से इनकार कर दिया। हमने आइपीसी की धारा 376 के तहत मामला दर्ज किया। पुलिस ने कहा कि आरोपी की तलाश जारी है।