योगी सरकार के चार साल पूरे होने पर सीएम योगी ने लोकभवन में की प्रेस कांफ्रेंस। - Dainik Bhaskar

योगी सरकार के चार साल पूरे होने पर सीएम योगी ने लोकभवन में की प्रेस कांफ्रेंस।

उत्तर प्रदेश में चार वर्ष पहले मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को सरकार के चार साल का रिपोर्ट कार्ड पेश किया। इस दौरान उन्होंने अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं और पीएम मोदी की जमकर तारीफ की। योगी ने कहा कि पीएम मोदी के निर्देशन में रिफॉर्म, परफार्म और ट्रांसफार्म के मंत्र पर यूपी सरकार ने काम किया जिसकी वजह से यूपी देश की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के रुप में उभरा।

इस मौके पर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा और प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह समेत कई वरिष्ठ मंत्री लोकभवन में मौजूद थे। सीएम योगी आदित्यनाथ लोक भवन में अपने चार वर्ष के कार्यकाल की उपलब्धि पर प्रकाश डालते हुए योगी ने सरकार की उपलब्धियों का जमकर बखान किया।

तत्कालीन सरकारों ने केंद्र की योजनाओं पर ध्यान नहीं दिया
योगी ने कहा कि चार साल पहले यूपी में केंद्रीय योजनाओं को तरजीह नहीं दी जाती थीं। सरकारी योजनाओं को इमानदारी से तत्कालीन सरकारों ने लागू नहीं किया। केंद्र सरकार के साथ मिलकर राज्य सरकार ने वर्तमान में जो उपलब्धियां हासिल की हैं, उसमें यूपी कई योजनाओं में नंबर वन पर है। योगी ने कहा कि केंद्र सरकार की सभी योजनाओं में यूपी जहां पहले बहुत पीछे हुआ करता था, आज उन सब में यूपी बेहतरीन कार्य पद्धति की वजह से पहले नंबर पर है।

प्रेस कांफ्रेस के दौरान CM की मुख्य बातें

  • सीएम ने कहा कि उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ की जनता का अभिवादन करता हूं, धन्यवाद देता हूं। आज के ही दिन 4 वर्ष पहले यूपी सरकार का दायित्व हमने सम्भाला था। यूपी में हमने जो परिवर्तन दिया उससे एक नई पहचान मिली। यूपी बीमारु राज्य की श्रेणी से बाहर आ चुका है। यूपी में निवेश का माहौल बनाने में सफल रहा। अर्थव्यवस्था में हम दूसरे स्थान पर हैं।
  • इज ऑफ डूइंग में हम दूसरे स्थान पर हैं। एमएसएमई, इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में हमने अभूतपूर्व सफलता पाई। यूपी में सकारात्मक माहौल को बनाने के लिए पीएम मोदी का निर्देशन हमारी टीम वर्क का परिणाम रहा।
  • योगी ने कहा कि यह वही यूपी है जिसका केंद्र की योजनाओं में कोई स्थान नहीं होता था। स्वच्छ भारत मिशन दुनिया का सबसे बड़ा अभियान था। 2 करोड़ 61 लाख शौचालयों का निर्माण करके उत्तर प्रदेश सबसे आगे रहा। पहले की सरकारों ने विकास में रुचि भी नहीं ली, न ही सोच बदली थी। देश में किसान राजनीति का एजेंडा 2014 के बाद बना है। खाद्यान्न उत्पादन में यूपी आज प्रथम स्थान पर है।
  • कहा कि उज्ज्वला, आयुष्मान, बिजली सभी योजनाओं में यूपी आज पहले स्थान पर हैं। हमने 1.27 लाख करोड़ का गन्ना किसानों को भुगतान किया। कोरोना काल मे भी यूपी की सभी 119 चीनी मिलें चालू रहीं। गन्ना किसानों का 10 साल तक भुगतान नहीं होता था। 4 वर्ष में पर्व त्यौहार शांतिपूर्ण हुए, कोई दंगा नहीं हुआ। अपराधियों पर यूपी सरकार की कार्रवाई आज दूसरे प्रदेशों के लिए नजीर बन गई है।
  • योगी ने कहा कि आज देश दुनिया का निवेश का पहला गंतव्य उत्तर प्रदेश बना है। यूपी में आज निवेश का माहौल कानून व्यवस्था से बना है। पुलिस रिफॉर्म की व्यवस्था भी हमने की हैं। 69 नए थाने, विजिलेंस के 10 थाने, फायर के 59 नए केंद्र हमने स्थापित किए। सभी मंडल पर हमने लैब स्थापित किए। डकैती में 65%, हत्या में 19%, बलात्कार में 45% की कमी आई है।
  • मुख्यमंत्री ने कहा कि चार दशक से लंबित बाण सागर परियोजना हमने शुरू की। सिंचाई की वर्षो से लंबित 12 परियोजनाओ को पूरा किया।16 लाख हैक्टेयर भूमि के सिंचन की व्यवस्था हम कर रहे। मंडी शुल्क को भी हमने कम किया। देश की अर्थव्यवस्था का आधार हमारा ग्रामीण भारत है। यूपी में 2017 तक आजादी के बाद भी कई गांवों में मूलभूत सुविधाएं नहीं थी। यूपी की पूर्व की सरकारों में इच्छाशक्ति की कमी थी।