• गंभीर आरोपों से घिरने के बाद पुलिस ने अपनी साख को बचाने के लिए गुरूवार को दो दरोगा सहित एक कांस्टेबल को निलंबित कर दिया था।

यहां थाना सजेती के अंतर्गत 9 मार्च को दर्ज हुए किशोरी गैंगरेप के मामले में पुलिस ने दरोगा के बड़े बेटे सौरभ यादव को शुक्रवार देर शाम गिरफ्तार कर लिया है। इससे पहले गुरूवार को दरोगा के छोटे बेटे और मुख्य आरोपी दीपू यादव व उसके साथी गोलू को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। गैंगरेप के मामले में तीनों आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस अब जल्द से जल्द कोर्ट में चार्जशीट दाखिल कर आरोपियों पर कड़ी से कड़ी सजा दिलवाने की तैयारी कर रही है।

बताते चलें कि कानपुर में थाना सजेती के अंतर्गत गैंगरेप का एक मामला बीते मंगलवार को थाने पहुंचा था। जिसमें गैंगरेप की पीड़िता किशोरी के पिता ने कन्नौज में तैनात दरोगा देवेंद्र यादव के बेटे व उसके दोस्त के ऊपर नाबालिग बेटी के गैंगरेप का आरोप लगाया था। वहीं दरोगा के बड़े बेटे पर मुकदमा दर्ज न कराने का दबाव बनाते हुए गाली गलौज व जान से मारने की धमकी का आरोप भी लगाया था। वही गैंगरेप की जानकारी होते ही मौके पर एसपी ग्रामीण ब्रजेश श्रीवास्तव के साथ सीओ गिरीश कुमार भी थाने पहुंच गए थे। उन्होंने गैंगरेप पीड़िता किशोरी के पिता से बातचीत करते हुए दरोगा देवेंद्र यादव के आरोपी बेटे दीपू व सौरभ और उसके साथी गोलू की गिरफ्तारी के लिए पुलिस के पांच टीमों का गठन करते हुए जल्द से जल्द गिरफ्तारी के आदेश भी दिए थे।

गैंगरेप पीड़िता के पिता की हुई थी सड़क हादसे में मौत

गैंगरेप पीड़ित बेटी को न्याय दिलाने के लिए भटक रहे पिता की बीते बुधवार सजेती के अनुपपुर चौराहे पर तेज रफ्तार ट्रक ने रौंद दिया था। जिसमे उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी। जिसके बाद पुलिस की कार्रवाई पर ग्रामीणों ने सवाल खड़े करते हुए कानपुर – सागर राजमार्ग पर जमकर हंगामा काटा था और वही पीड़ित परिवार के अन्य लोगों ने आरोपितों व पुलिस की मिलीभगत से किशोरी के पिता की हत्या का आरोप लगाया था है। वही पुलिस ने तेजी दिखाते हुए जिस ट्रक से एक्सीडेंट हुआ था उसे कब्जे में लेते हुए उसक चालक को गिरफ्तार कर लिया था।

क्या बोले डीआईजी कानपुर

डॉ। प्रीतिंदर सिंह ने बताया कि थाना क्षेत्र सजेती पर 9 मार्च को पंजीकृत अभियोग धारा-376 डी (ए), 504, 506 IPC व 5G/6 पॉक्सो एक्ट के अंतर्गत मुकदमा पंजीकृत हुआ था। जिसमें दो आरोपी गोलू व दीपू यादव को पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया था अन्य शेष आरोपी सौरभ यादव के लिए टीम लगाई गई थी। जिसको शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया है। पूरे मामले में ठोस सबूतों के आधार पर कोर्ट में जल्द से जल्द चार्जशीट दाखिल की जाएगी और हमारा प्रयास रहेगा कि इस मुकदमे को फास्ट ट्रैक कोर्ट में लाकर आरोपियों को जल्द से जल्द सजा दिलवाई जाए।