आशियाना क्षेत्र में कैंट रोड देवी खेड़ा में सोमवार देर शाम एक प्रेमी-युगल खून से लथपथ हालत में सड़क पर तड़पते मिले। दोनों का गला कटा हुआ था। स्थानीय लोगों की सूचना पर पहुंची आशियाना और आलमबाग पुलिस ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया। जहां, दोनों की हालत नाजुक बताई जा रही है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। एडीसीपी पूर्वी कासिम आब्दी ने बताया कि सोमवार देर शाम कंट्रोल रूम से सूचना मिली कि देवी खेड़ा में सड़क किनारे खून से लथपथ एक युवक और युवती पड़े तड़प रहे हैं। इस पर आशियाना और आलमबाग पुलिस मौके पर पहुंची। दोनों के गले कटे हुए थे। युवक के बायें हाथ से भी खून निकल रहा था।

पुलिस आनन फानन दोनों को लोक बंधु अस्पताल लेकर पहुंची। जहां, से युवक की हालत नाजुक देख उसे ट्रामा रेफर कर दिया गया। वहीं, युवती को लोक बंधु में ही भर्ती कर लिया गया। एसीपी कैंट ने बताया कि युवती मूल रूप से उन्नाव की रहने वाली है। वह यहां किराए के मकान में रहती है और एक शॉपिंग माल में नौकरी करती है। युवक की पहचान लखीमपुर खीरी निवासी गौरव सिंह (27) के रूप में हुई। दोनों के परिवारीजनों को सूचना दे दी गई है। उनके आने पर ही कुछ और तथ्य पता चल सकेंगे। दोनों में करीब छह-सात माह से बातचीत हो रही थी। दोनों में प्रेम प्रसंग की बात सामने आ रही है।

दोनों ने बीच हुआ था झगड़ा

एडीसीपी ने बताया कि संभावना जताई जा रही है कि दोनों के बीच पहले किसी बात को लेकर झगड़ा हुआ था। गौरव, युवती से मिलने के लिए ही आया था। दोनों साथ में देवीखेड़ा पहुंचे थे। वहां हो सकता उनके बीच झगड़ा हुआ और एक दूसरे पर प्रहार कर दिया हो। हालांकि दोनों में से किसी एक के होश में आने पर ही पता चल सकेगा कि कैसे उनका गला कटा। एडीसीपी ने बताया कि सभी बिंदुओं की जांच की जा रही है।

गौरव आया था चाकू लेकर

पुलिस सूत्रों के मुताबिक गौरव चाकू लेकर आया था। क्योंकि युवती सीधे माल से गौरव के साथ घटनास्थल पहुंची थी। मौके पर एक ही चाकू बरामद हुआ है। संभावना है कि दोनों के बीच झगड़ा हुआ। और झगड़े के दौरान गौरव ने चाकू से युवती पर वार किया इसके बाद खुद को चाकू मार ली।