राजधानी में रोक के बावजूद हुक्‍का बार संचाल‍ित है। मंगलवार शाम नाका पुलिस ने राजेंद्र नगर स्थित पैसिफिक रेस्टोरेंट में छापेमारी की। पुलिस ने मौके से तीन युवकों को हुक्का पीते हुए पकड़ा। इंस्पेक्टर मनोज मिश्रा ने बताया कि हुक्का बार चलाने के आरोप में मालिक पीयूष को हिरासत में ले लिया गया है। उससे पूछताछ की जा रही है। मौके से तीन भरे हुए हुक्के व फ्लेवर बरामद किए गए हैं। इसके अलावा तीन लड़के पीते हुए भी मिले हैं। मामले में कार्रवाई की जा रही है। 

इससे पहले 16 युवक-युवतियों समेत 24 हिरासत में ल‍िए गए थे: बता दें, बीती 28 फरवरी को महानगर पुलिस ने गोल मार्केट चौराहा स्थित कांसेप्ट हेडक्वार्टर रेस्टोरेंट में छापेमारी की थी। इस दौरान यहां लोगों को हुक्का पीते पकड़ा गया था। इसके बाद पुलिस टीम ने रेस्टोरेंट के मैनेजर समेत आठ कर्मचारियों और हुक्का पी रहे 16 युवक-युवतियों समेत 24 लोगों को हिरासत में लिया था। रेस्टोरेंट से आठ हुक्के और फ्लेवर बरामद किए गए थे। 

14 जनवरी को भी हुक्‍का बार पर हुए था एक्‍शन: बता दें, 14 जनवरी को सप्रू मार्ग स्थित बेक एंड फ्लेम रेस्टोरेंट में हजरतगंज पुलिस ने मारा छापा था। छापेमारी कर 12 हुक्का बरामद किए और रेस्टोरेंट को सील कर दिया गया। साथ ही रेस्टोरेंट संचालक इलियाश समेत चार लोगों के खिलाफ एफआइआर दर्ज की गई थी। 

हुक्का बार पर हाईकोट का प्रतिबंधित: गौरतलब है कि हाइकोर्ट के आदेश के बाद राजधानी में हुक्का बार प्रतिबंधित किया गया था। कोरोना काल में बढ़ते संक्रमण को देखते हुए हाईकोर्ट ने यह आदेश जारी किया था। इसके बाद से लखनऊ पुलिस विभिन्न हुक्का बार में छापेमारी कर चुकी है। विभूतिखंड, अलीगंज, राजाजीपुरम और हजरतगंज समेत कई इलाकों में बिना लाइसेंस के अवैध रूप से लोगों को हुक्का पिलाने वालों के खिलाफ पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है। बावजूद इसके अभी भी कुछ रेस्टोरेंट में चोरी छिपे हुक्का परोसा जा रहा है।