गोरखपुर में नर्तकी से सामूहिक दुष्‍कर्म का मामला सामने आया है। – प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

गोरखपुर के शाहपुर क्षेत्र के बौलिया कालोनी में एक नर्तकी को अगवा कर बाइक सवार युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। राहगीरों की मदद से हड़हवा फाटक चौकी पहुंची पीडि़त ने चौकी प्रभारी को घटना की जानकारी दी लेकिन उन्होंने मामला टाल दिया।

गोरखपुर,। गोरखपुर के शाहपुर क्षेत्र के बौलिया कालोनी में एक नर्तकी को अगवा कर बाइक सवार युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। राहगीरों की मदद से हड़हवा फाटक चौकी पहुंची पीडि़त ने चौकी प्रभारी को घटना की जानकारी दी लेकिन उन्होंने मामला टाल दिया। बुधवार को पीडि़त की आपबीती का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो गया। जिसके बाद एडीजी, आइजी व एसएसपी शाहपुर थाने पहुंच गए। घटना छिपाने वाले चौकी प्रभारी व ड्यूटी पर मौजूद सिपाही को निलंबित कर उनके खिलाफ मामला छिपाने का केस दर्ज करा दिया। नाबालिग नर्तकी की मां ने एक नामजद समेत तीन लोगों के खिलाफ बंधक बनाकर सामूहिक दुष्कर्म करने और पाक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज कराया।मुख्य आरोपित समेत दो को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है

पीडि़त का वीडियो वायरल होने पर एडीजी, आइजी व एसएसपी पहुंचे शाहपुर थाने

बुधवार की दोपहर इंटरनेट मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ। जिसमें एक किशोरी बता रही है कि वह गोरखनाथ क्षेत्र की रहने वाली है और डांस करके जीविकापार्जन करती है। मंगलवार की रात वह एक कार्यक्रम करने को गई थी। जहां से दो सहेलियों के साथ घर लौट रही थी। रास्ते में उसने दो सहेलियों को रात होने की वजह से घर जाने को कह दिया और अकेले ही बौलिया कालोनी के रास्ते आने लगी। रास्ते में सुनसान स्थान पर मिले बाइक सवार दो युवकों ने मुंह दबाकर अगवा कर लिया।

कालोनी में स्थित एक खाली घर में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। उनके चंगुल से छूटने के बाद वह हड़हवा फाटक चौकी पर पहुंची और आपबीती बताई। चौकी प्रभारी बृजेश यादव ने कार्रवाई करने की बजाय किशोरी की मां को बुलाकर घर भेज दिया। घटना की जानकारी अधिकारियों को भी नहीं दी। वीडियो की जानकारी होते ही एडीजी अखिल कुमार, आइजी रेंज राजेश मोदक, एसएसपी जोगेंद्र कुमार शाहपुर थाने पहुंच गए।

मुख्य आरोपित समेत दो गिरफ्तार

बाल संरक्षण अधिकारी डाक्टर सुमन शुक्ल और वन स्टाफ सेंटर की मैनेजर पूजा पांडेय को बुलाकर पीडि़त का बयान दर्ज कराया। मां की तहरीर हड़हवा फाटक क्षेत्र में रहने वाले रवि उर्फ राज व दो अज्ञात के खिलाफ बंधक बनाकर सामूहिक दुष्कर्म करने और पाक्सो एक्ट का केस दर्ज किया। एसएसपी जोगेंद्र कुमार ने बताया कि मुख्य आरोपित रवि उर्फ राज और उसके साथी विशाल को को गिरफ्तार कर लिया गया है।

तीसरे आरोपित के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। घटना से जुड़े सभी पहलुओं की जांच चल रही है। लैंगिग संबंधित अपराध की सूचना अधिकारियों व थानेदार को न देने वाले हड़हवा फाटक चौकी प्रभारी बृजेश यादव, ड्रयूटी पर तैनात सिपाही धर्मेंद्र को निलंबित कर दिया गया है। शाहपुर थानेदार संतोष सिंह ने उनके खिलाफ आइपीसी की धारा 166ए के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया है।