अमेठी जिले के संग्रामपुर थाना क्षेत्र के एक गांव से सनसनीखेज मामला सामने आया है। पांच साल के पुत्र के साथ गुरुवार सुबह थाने व शुक्रवार को एएसपी के पास पहुंची विवाहिता ने अपने ससुर पर लालच व भय दिखाकर लगातार यौन शोषण का आरोप लगाया है।

विवाहिता का कहना है कि शिकायत करने पर उसे जान से मारने व पति को फर्जी केस में फंसा कर जेल भेजवाने की धमकी दी जाती है।

महिला की ओर से पुलिस को दी गई तहरीर में जो आरोप लगाया गया है वो दिल दहला देने वाला है। विवाहिता का कहना है कि उसका ससुर पुलिस विभाग से सेवानिवृत्त है। ससुर ने इसका रौब व संपत्ति का लालच दिखाकर अपने पुत्र की दूसरी शादी सात वर्ष पूर्व उसके साथ करवाया था।

शादी के बाद से ही ससुर उसके पति को पास नहीं आने देता था। इतना ही नहीं मौका देखकर उसने एक दिन उसके साथ जबरन यौन संबंध बनाया फिर तो इसका सिलसिला शुरू हो गया। इसमें कोई बाधा नहीं आए इसके लिए उसका ससुर पति को परदेश भेजने या न मानने पर मार डालने के लिए उकसाता रहा।

बेटे की पहली पत्नी के साथ भी किया दुष्कर्म

महिला के अनुसार उसके ससुर ने सिर्फ उसी के साथ हैवानियत नहीं की बल्कि पति की पहली पत्नी (सौतन) से भी लगातार दुष्कर्म करता रहा। इसके चलते उसकी सौतन पागल हो गई। महिला का कहना था कि अति होने के बाद जब उसने शिकायत करने की ठानी तो उसके ससुर ने चारों को (स्वयं व अपने बच्चे के साथ पति व उसकी पहली  पत्नी) अपनी संपत्ति से भी बेदखल कर दिया।

महिला के पति ने बताया कि पिता के कुकृत्यों की जानकारी होने के बाद वह गुरुवार को तहरीर लेकर पत्नी व बेटे के साथ थाने गया था। सुनवाई नहीं होने पर वह शुक्रवार को एएसपी दयाराम से भी मिला। बावजूद इसके अब तक उसका केस दर्ज नहीं किया गया।

नहीं मिली तहरीर : एसएचओ

इस बारे में जानकारी लेने के लिए फोन करने पर एएसपी का फोन नहीं उठा। एसएचओ प्रेमचंद्र सिंह ने कहा कि पीडि़त परिवार अभी उनसे नहीं मिला। तहरीर मिलने पर केस दर्ज कर मामले की जांच की जाएगी।