10 लाख रुपए रिश्वत लेने के आरोप में जेल में बंद SDM पिंकी मीणा 16 फरवरी को जज से शादी करने वाली हैं। राजस्थान हाईकोर्ट की जयपुर बेंच के जस्टिस इंद्रजीत सिंह ने उन्हें 10 दिन की सशर्त जमानत दी है। दौसा में हाईवे बना रही कंपनी से पैसे लेने की आरोपी SDM पिंकी 29 दिनों से जयपुर की घाटगेट जेल में बंद थीं। बुधवार रात उन्हें रिहा कर दिया गया।

पिंकी मीणा को महिला जेल के गेट की बजाय सेंट्रल जेल के मेन गेट से बाहर निकाला गया। उनके परिवार के लोग उन्हें लेने आए थे। वे जयपुर से चौमू के चिथवाड़ी में अपने गांव के लिए रवाना हो गईं। पिंकी को शादी के पांच दिन बाद यानी 21 फरवरी को सरेंडर करना होगा। मामले की अगली सुनवाई 22 फरवरी को होगी।

निचली अदालत ने ठुकरा दी थी जमानत याचिका
SDM मीणा ने जनवरी 2021 में निचली अदालत में जमानत के लिए अर्जी दी थी, लेकिन अदालत ने जमानत देने से मना कर दिया था। सरकारी वकील ने जांच प्रभावित होने का हवाला देते हुए जमानत का विरोध किया था। हालांकि, अब हाईकोर्ट से पिंकी को शादी के 6 दिन पहले जमानत मिल गई है।

दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस हाईवे बना रही कंपनी से ली थी घूस
ACB ने 13 जनवरी को हाईवे निर्माण करने वाली कंपनी से 5 लाख की रिश्वत लेते दौसा SDM पुष्कर मित्तल और 10 लाख की रिश्वत लेने की शिकायत पर बांदीकुई SDM पिंकी मीणा को गिरफ्तार किया था। आरोप है कि दोनों SDM ने भारतमाला परियोजना (दिल्ली मुंबई एक्सप्रेस हाईवे) कंपनी के अधिकारियों से रिश्वत की मांग की थी।

मीणा ने पहली बार में आरएएस क्लियर किया
पिंकी मीणा जयपुर जिले में चौमूं के चिथवाड़ी गांव की रहने वाली हैं। सरकारी स्कूल से पढ़ाई पूरी करने वाली पिंकी मीणा के पिता किसान हैं। उन्होंने पहली बार में ही RAS की परीक्षा क्लियर कर ली थी, लेकिन 21 साल उम्र नहीं होने के कारण वे इंटरव्यू नहीं दे पाई थीं। इसके बाद 2016 में फिर से मेरिट के साथ परीक्षा क्लियर की। पहली पोस्टिंग टोंक में मिली थी।