मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने दो दिवसीय वाराणसी दौरे के पहले दिन देश के आदर्श एवं मॉडल विकास खंड के सेवापुरी का दौरा किया। यहां स्कूल, आंगनवाड़ी केंद्र, पंचायत भवन, हेल्थ वेलनेस सेंटर का हाल जानने के साथ ही आरोग्य मेला का निरीक्षण किया। कन्या पूर्व माध्यमिक विद्यालय अमिनी परिसर स्थित आंगनवाड़ी केंद्र के छोटे-छोटे बच्चों ने अपनी तोतली आवाज में हिंदी एवं गिनती की पढ़ाई कर आगनबड़ी की शिक्षा गुणवत्ता को बताया।

परिसर में ही प्राइमरी विद्यालय के बच्चों के पठन-पाठन के संबंध में जानकारी करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ में कक्षा 3 के छात्र अंश यादव से अंग्रेजी के किताब में लिखे “आई लव कलर” का अर्थ पूछा। अंश ने तत्काल बता दिया, मैं रंगों से प्यार करता हूं इस पर मुख्यमंत्री ने शाबाशी देते हुए फिर पूछा कि उत्तर प्रदेश में कुल कितने जिले हैं। अंश ने 75 जिला बताया, तो उपस्थित लोगों ने जिलों का नाम बताने को कहा। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा अरे नहीं-नहीं, चलो जिस जिले में रहते हो उसी का नाम बता दो। अंश ने जनपद का नाम वाराणसी बताने के साथ धाराप्रवाह प्रदेश के 75 जिलों का नाम बता दिया। छात्र के सभी जिलों का नाम सुनकर मुख्यमंत्री हैरत से उसे देखते रहे और शिक्षा के गुणवत्ता को खूब सराहा। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सरिता, सुषमा, अंजू पटेल एवं वंदना पटेल का गोद भराई भी किया तथा गौरांशी, यस, कौशल एवं आरूष का अन्नप्राशन भी किया।

अन्नप्राशन के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आरूष एवं गौरांशी को गोद में उठाकर खूब दुलार एवं लाड प्यार  किया। गोद भराई के दौरान उन्होंने धात्री महिलाओं से कहा कि फल व सब्जियां खाना शुरू कर दें और घरों में सब्जियां उगाये भी। उन्होंने स्मार्ट क्लास का भी निरीक्षण कर शिक्षा के गुणवत्ता को परखा तथा बच्चों को बेहतर से बेहतर शिक्षा व्यवस्था सुनिश्चित कराए जाने का मौके पर मौजूद शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया। मुख्यमंत्री ने आरोग्य स्वास्थ्य केंद्र अमिनी का भी निरीक्षण किया।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने पूनम, सनी कनौजिया, तेज बहादुर, अभय एवं पुष्पा देवी को आयुष्मान भारत योजना अंतर्गत गोल्डन कार्ड उपलब्ध कराएं तथा पिंटू, अभिषेक, राजकुमार एवं बनारसी ट्राई साइकिल वितरित किया। पंचायत भवन सचिवालय में बने ग्राम प्रधान कक्ष, सभागार एवं कार्यालय का भी अवलोकन किया। मौके पर लगाए गए कृषि विभाग, पशुपालन, सोशल सेक्टर, दिव्यांगजन विभाग आदि द्वारा लगाए गए शासकीय योजनाओं से संबंधित प्रदर्शनी का भी मुख्यमंत्री ने अवलोकन किया तथा अधिकारियों को शासकीय योजनाओं का लाभ हर पात्र व्यक्ति को सुगमता के साथ सुलभ कराने का निर्देश दिया। मुख्यमंत्री के साथ निरीक्षण के दौरान पर्यटन, संस्कृति, धर्मार्थ कार्य राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉक्टर नीलकंठ तिवारी, जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।