सीएम योगी आदित्‍यनाथ के निर्देश पर गोरखपुर में प्रशासन ने अवैध निर्माण को ध्‍वस्‍त कर दिया। – फाइल फोटो

गोरखपुर में सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर प्रशासन ने खोवा मंडी गली में स्थित 900 स्कवायर फीट जमीन से कब्‍जा हटवाया। बाउंड्री ध्‍वस्‍त कराने के बाद इसका कब्‍जा जनता दरबार में शिकायत करने वाले परिवार को वापस दे दिया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर गुरुवार की सुबह प्रशासन ने खोवा मंडी गली में स्थित 900 स्कवायर फीट जमीन से कब्‍जा हटवाया। बाउंड्री ध्‍वस्‍त कराने के बाद इसका कब्‍जा जनता दरबार में शिकायत करने वाले परिवार को वापस दे दिया। 17 जनवरी को प्रशासन ने ही इस जमीन पर प्रभाकर द्विवेदी को कब्जा दिलवाया था। किस आधार पर कब्जा दिलवाया गया इस पर कोई भी अधिकारी कुछ बोल नहीं रहा है। वर्ष 2009 में भी कब्जा करने का प्रयास हुआ था। तब योगी आदित्यनाथ सांसद थे। मौके पर पहुंच कर पीडि़त परिवार को वापस जमीन पर कब्जा दिलवाया था।

जनता दरबार में शिकायत के बाद आनन-फानन में हुआ ध्वस्तीकरण

गोलघर खोवा मंडी गली में 900 स्कवायर फीट जमीन पर कब्‍जे को लेकर पिछले 12 साल से विवाद चल रहा है। जमीन पर राजेन्द्र के परिवार का कब्जा था। 17 जनवरी को जिला प्रशासन ने उनसे जमीन खाली कराकर प्रभाकर प्रभाकर द्विवेदी को दे दिया। गुरुवार को गोरखनाथ मंदिर पहुंचे राजेन्द्र यादव ने जनता दरबार में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ को बताया कि 1983 से ही जमीन पर उनका परिवार काबिज है। दस्‍तावेज दिखाने के बाद भी प्रशासन ने उनकी बात नहीं सुनी। मुख्‍यमंत्री काे बताया कि 12 साल पहले भी जमीन पर कब्जा करने की कोशिश हुई थी। तब आप ने मौके पर पहुंच कर कब्जा दिलाया था। जिसके बाद मुख्‍यमंत्री ने जनता दरबार में मौजूद प्रशासन व पुलिस अधिकारियों को फटकार लगाते हुए अवैध कब्‍जा तुरंत हटवाने का निर्देश दिया। जिसके बाद एडीएम सिटी, सिटी मजिस्ट्रेट्र, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट, तहसीलदार, सीओ कैंट, प्रभारी निरीक्षक फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। प्रभाकर द्विवेदी का निर्माण गिरवाकर जमीन राजेंद्र यादव को वापस कर दिया।

सीएम को याद आ गया सारा वाकया

राजेंद्र यादव की बात सुनकर मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पूरा वकाया याद आ गया। जब उन्होंने खोवा मंडी में स्वयं जाकर अवैध कब्जेदारों द्वारा मकान पर लगाया ताला तोड़वाया था। जनता दरबार में मौजूद अधिकारियों पर वह बिफर पड़े। एक अधिकारी से कहा कि माफिया कैसे पनप रहा है।

एक घंटे में कब्जा हटा दिया गया

सीएम के निर्देश के तत्काल बाद सक्रिय हुए एडीएम सिटी राकेश कुमार श्रीवास्तव पुलिस, प्रशासन और राजस्व विभाग की टीम के साथ मौके पर पहुंचे। जेसीबी लगा कर किया जा रहा निर्माण तोड़ डाला। मौके पर रखी ईटें, सीमेंट, बालू और गिट्टी सब नगर निगम की गाड़ियों में लोड करा उठवा दिया। कब्‍जा करने वाले लोग मौके से फरार हो गए।

200 लोगों की सीएम योगी ने सुनी पीड़ा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार की सुबह 7.30 बजे से 8.15 तक हिन्दू सेवाश्रम आश्रम में जनता दर्शन कार्यक्रम में 200 से अधिक फरियादियों की पीड़ा सुनी। कतारबद्ध कुर्सियों पर बैठे एक-एक फरियादी के पास सीएम स्वयं पहुंचे। उनकी शिकायत ली और जरूरी सवाल किए। साथ चल रहे अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश भी दिए। सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी को विश्वास दिलाया कि उनकी समस्या का नियमानुसार समाधान कराया जाएगा।