भारतीय क्रिकेट टीम के बाएं हाथ के धुरंधर बल्लेबाज शिखर धवन वाराणसी से आकर विवादों में घिरते नजर आ रहे हैं। दो दिन पहले काशी में नौका विहार के दौरान शिखर धवन ने परिंदों को दाना खिलाया था, जिसको लेकर वाराणसी जिला प्रशासन कार्रवाई के मूड में है। दरअसल, बर्ड फ्लू की वजह से पक्षियों को दाना खिलाने पर रोक है।

शनिवार को शिखर धवन ने सोशल मीडिया पर पक्षियों को दाना खिलाते हुए तस्वीर शेयर की थी। ये फोटो वायरल होते ही वाराणसी जिला प्नशासन ने इस मामले पर संज्ञान लिया है। वाराणसी के डीएम कौशल राज शर्मा ने नाव चलाने वाले पर भी कार्रवाई करने की तैयारी की है।

डीएम कौशल राज शर्मा ने बताया कि जिस नाव से शिखर धवन नौका विहार के लिए गए थे, उस नाविक पर भी कार्रवाई शुरू की जा रही है।उन्होंने कहा कि धवन को नियम की जानकारी नहीं रही होगी, लेकिन नाविक को थी और उसे बताना चाहिए था। डीएम ने आगे बताया कि बर्ड फ्लू के दौरान विदेशी पक्षियों को दाना खिलाने पर रोक है, लेकिन धवन ने अपने इंस्टाग्राम पेज पर एक फोटो पोस्ट किया जिसमें वह दाना खिलाते नजर आ रहे हैं। इस तस्वीर की जांच की जा रही है।

बता दें कि बर्ड फ्लू के चलते डीएम कौशलराज शर्मा बीते 11 जनवरी को गंगा नदी में प्रवासी पक्षियों को दाना खिलाने पर रोक लगाते हुए नगर निगम और जल पुलिस को इस पर निगरानी का निर्देश दिया था। डीएम ने सभी बीडीओ व सचिवों को मुर्गा व मीट बेचने वाले दुकानदारों के साथ बैठक कर जागरूक करने, साफ-सफाई रखने और किसी प्रकार के पशु-पक्षी की सामूहिक मृत्यु की सूचना तत्काल संबंधित थाने एवं पशु चिकित्सा अधिकारियों को देने का निर्देश दिया था।

धवन ने बाबा विश्वनाथ का किया दर्शन
काशी प्रवास के दौरान शिखर धवन पूरी तरह से भक्ति के रंग में डूबे नजर आए थे। शिखर ने बाबा विश्वनाथ के दर्शन भी किए और विश्व प्रिसद्ध गंगा आरती में भी शामिल हुए।  उन्होंने मास्क लगा रखा थ,इसके बावजूद कुछ लोगों ने उन्हें पहचान लिया। शिखर धवन ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट से एक वीडियो भी शेयर किया है। शिखर धवन की एक ऐसी तस्वीर भी वायरल हुई है, जिसमें वे त्रिपुंड लगाए नजर आ रहे हैं।

You missed