एसडीएम पिंकी मीणा इस समय जेल में है। एसीबी ने उन्हें रिश्वत के मामले में गिरफ्तार किया है।

  • इससे पहले निगम ने बार-बार दिए नोटिस, नहीं की थी कार्रवाई
  • एसडीएम ऑफिस पर भी बिजली बिल का 2.70 लाख बकाया है

एसडीएम पिंकी मीणा के खिलाफ एसीबी कार्रवाई की चर्चा अभी थमी भी नहीं थी कि गुरुवार को बिजली विभाग ने भी एसडीएम आवास पर अपनी कार्रवाई को अंजाम दे दिया। तीन साल से एसडीएम आवास पर बकाया चल रहे 1.25 लाख रुपए जमा नहीं कराने पर यहां का बिजली कनेक्शन काट दिया गया।इस कार्रवाई की दिनभर शहर में लोग चर्चा करते नजर आए।

13 जनवरी को एसडीएम पिंकी मीणा को एसीबी ने नेशनल हाइवे कंपनी से रिश्वत मांगने के आरोप में ट्रैप कर लिया था। इसके बाद एसडीएम को राज्य सरकार ने निलंबित कर दिया। जेईएन जेपी मीणा ने बताया कि एसडीएम आवास पर जनवरी 2017 से अभी तक तीन साल में 1 लाख 25 हजार रुपए बकाया चल रहे थे। इस बीच कई बार नोटिस जारी कर बकाया जमा कराने के लिए कहा कि लेकिन बकाया जमा नहीं कराने पर कनेक्शन काट दिया।

एक साल से ऑफिस पर भी 2.70 लाख बकाया
एसडीएम आवास पर बकाया होने पर तो बिजली का कनेक्शन कट दिया। लेकिन एसडीएम ऑफिस पर भी जनवरी 2019 से अभी तक एक साल में करीब 2.70 लाख रुपए बकाया चल रहे है। यहां अब तक बिजली विभाग की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

You missed