देश में बर्ड फ्लू भी दिन पर दिन पैर पसारता जा रहा है। केंद्रीय पशुपालन मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि अभी तक नौ राज्यों के पोल्ट्री फार्म में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। इन नौ राज्यों में केरल, हरियाणा, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, उत्तराखंड, गुजरात, उत्तर प्रदेश और पंजाब शामिल है। इन सभी राज्यों की मुर्गियों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है।

वहीं, कौवा, प्रवासी और जंगली पक्षियों में बर्ड फ्लू की बात करे तो इससे 12 राज्य प्रभावित हैं।  मध्य प्रदेश, हरियाणा, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, गुजरात, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, दिल्ली, राजस्थान, जम्मू और कश्मीर और पंजाब ऐसे राज्य हैं जहां पर कौवा, जंगली और प्रवासी पक्षी में भी बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है।

दिल्ली के चिड़ियाघर में सभी मृत सारस पक्षियों से लिए गए 12 नमूनों में बर्ड फ्लू की पुष्टि नहीं हुई है। अधिकारियों ने शुक्रवार को इस बारे में बताया। एक सप्ताह पहले ही चिड़ियाघर परिसर में एक पक्षी में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई थी। दिल्ली सरकार के पशुपालन विभाग के निदेशक डॉ. राकेश सिंह ने बताया, कुछ दिन पहले दिल्ली के चिड़ियाघर में चार सारस पक्षी मृत पाये गये थे। सोमवार को इनके 12 नमूने एकत्र किये गये और उन्हें जांच के लिए भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग संस्थान (एनआईएचएसएडी), भोपाल भेजा गया था।

वहीं, महाराष्ट्र के हिंगोली जिले में बर्ड फ्लू को फैलने से रोकने के लिए शनिवार को पोल्ट्री फार्म के 764 पक्षियों को मारा जाएगा। एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पशुपालन विभाग ने हिंगोली शहर से 50 किलोमीटर दूर स्थित पिंपरी खुर्द गांव स्थित पोल्ट्री फार्म के मृत पक्षियों के नमूने भोपाल की एक प्रयोगशाला में भेजे थे और उनमें ‘एवियन इन्फ्लूएंजा की पुष्टि हुई है। 

You missed