गोरखपुर जिले के पिपरौली से ब्लॉक प्रमुख माफिया सुधीर सिंह को छह महीने के लिए जिला बदर कर दिया गया है। गोरखपुर पुलिस माफिया को साथ लेकर देवरिया गई और वहां की पुलिस के हवाले कर दिया। अब सुधीर छह महीने तक गोरखपुर में नहीं आ सकता। हालांकि, इसके पहले उसकी संपत्ति जब्त के आदेश का पालन आज तक नहीं हो सका है।0जानकारी के मुताबिक, शाहपुर एल्युमीनियम फैक्ट्री के पास के रहने वाले माफिया सुधीर सिंह पर गुंडा एक्ट की कार्रवाई की गई थी। जिला बदर के लिए डीएम के पास फाइल भेजी गई थी। जिला बदर की अनुमति मिलने के बाद चौकी प्रभारी हड़हवा फाटक रमेश चंद्र उपाध्याय हमराही राजकुमार के साथ रविवार को सुधीर सिंह को साथ लेकर देवरिया थाने गए और शाम 7.48 बजे देवरिया पुलिस को सुपुर्द कर दिए। माफिया सुधीर पर 20 मुकदमे दर्ज हैं।

इससे पहले पुलिस की रिपोर्ट पर संपत्ति जब्त करने का आदेश हुआ था, मगर सुधीर की जगह पुलिस ने ट्रांसपोर्टर सुधीर सिंह के वाहनों का नंबर दे दिया था, जिससे कार्रवाई रुक गई थी।

ट्रांसपोर्टर की परेशानी नहीं हुई कम
पुलिस की हीलाहवाली के कारण माफिया की जगह मिलते-जुलते नाम के ट्रांसपोर्टर सुधीर सिंह के वाहनों को जब्त कर लिया गया था। धीरे-धीरे तीन महीने से अधिक का समय गुजर गया, लेकिन अभी तक इस पर कोई फैसला नहीं हो सका है। ट्रांसपोर्टर अब भी पुलिस प्रशासन और आरटीओ के चक्कर लगा रहे हैं। वहीं, जिस पर कार्रवाई होनी थी उस पर नहीं हो पाई।

You missed