कहीं नहीं टिकते मित्तल

मासिक कनेक्शनों के मामले में मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस जियो को भारती एयरटेल ने पछाड़ दिया है। हालांकि, संपत्ति और अरबपतियों की सूची में मुकेश अंबानी अब भी एशिया में सबसे आगे हैं।

0मुकेश अंबानी और सुनील मित्तल

भारतीय टेलीकॉम इंडस्ट्री की दिग्गज कंपनी रिलायंस जियो को भारती एयरटेल ने बड़ा झटका दिया है। दरअसल, एयरटेल ने मासिक कनेक्शनों के मामले में मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस जियो को पछाड़ दिया है।

करीब 4 साल में पहली बार है जब रिलायंस जियो को झटका लगा है। हालांकि, संपत्ति और अरबपतियों की सूची में मुकेश अंबानी अब भी एशिया में सबसे आगे हैं। वहीं, मुकेश अंबानी के सामने भारती एयरटेल के फाउंडर सुनील मित्तल कहीं नहीं टिकते हैं।संबंधित खबरें

COVID-19LOCKDOWNPHOTOS

मुकेश अंबानी वर्सेज सुनील मित्तल; ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के मुताबिक रिलायंस जियो के मुकेश अंबानी की नेटवर्थ 75 बिलियन डॉलर (5.60 लाख करोड़ रुपए) है। वहीं, सुनील मित्तल की बात करें तो 8.12 बिलियन डॉलर की संपत्ति के मालिक हैं। रैंकिंग के हिसाब से देखें तो मुकेश अंबानी दुनिया के टॉप 10 अमीरों की सूची में दसवें स्थान पर हैं जबकि सुनील मित्तल शुरुआती 250 दौलतमंद शख्सियतों में भी शामिल नहीं हैं। फिलहाल, ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स पर सुनील मित्तल 273वें स्थान पर हैं।

रिलायंस का कारोबार: रिलायंस का कारोबार पेट्रोकेमिकल्स, रिफाइनरी, रिटेल और टेलीकॉम समेत अन्य कई क्षेत्रों में फैला है। वहीं, एयरटेल का वर्चस्व टेलीकॉम इंडस्ट्री में है। रिलायंस जियो की शुरुआत 2016 में हुई थी, इसके बाद से ही एयरटेल का भारत में दबदबा कम हो गया। हालांकि, अब करीब 4 साल बाद एयरटेल ने मासिक आधार पर सबसे ज्यादा ग्राहक जोड़े हैं।Also Read

ट्राई के ताजा आंकड़ों के मुताबिक सितंबर, 2020 में भारती एयरटेल ने 37.7 लाख नए कनेक्शन जोड़े हैं। वहीं, रिलायंस जियो ने 14.6 लाख ग्राहकों को कनेक्शन दिया है। कुल मोबाइल कनेक्शनों की संख्या के मामले में रिलायंस जियो 40.41 करोड़ ग्राहकों के साथ पहले स्थान पर बनी हुई है। भारती एयरटेल 32.66 करोड़ कनेक्शनों के साथ दूसरे, वोडाफोन आइडिया 29.54 करोड़ कनेक्शनों के साथ तीसरे स्थान पर है।

कोरोना काल में जियो को मिला निवेश: कोरोना काल में मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस जियो को वैश्विक स्तर पर जबरदस्त निवेश मिला है। जिन कंपनियों ने जियो प्लेटफॉर्म में निवेश किया है उनमें फेसबुक, गूगल, केकेआर, मुबाडला, एडीआईए, टीपीजी, सिल्वर लेक, विस्टा इक्विटी पार्टनर्स, जनरल एटलांटिक और इंटेल शामिल हैं। कंपनी ने दुनिया के 13 ​निवेशकों से करीब 1.52 लाख करोड़ रुपये का निवेश हासिल किया है।