जिसके बाद रामपुर (Rampur) के एक आरटीआई (RTI) एक्टिविस्ट ने यूपी पुलिस के आला अफसरों को यह वीडियो ट्विटर (Twitter) पर टैग कर दिया. अब ऐसा दावा किया जा रहा है कि आरोपी पुलिस वालों के खिलाफ कार्रवाई भी कर दी गई है.

कानपुर के चमनगंज थाना इलाके की यह घटना बताई जा रही है.

नई दिल्ली. बुलंदशहर (Bulandshahr) की घटना में सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) की कार्रवाई को अभी कुछ ही घंटे बीते हैं. लेकिन यूपी पुलिस (UP Police) की मनमानी का एक और वीडियो सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल हो रहा है. वाहन चेकिंग के दौरान कानपुर पुलिस पर महिलाओं के सामने एक युवक को पीटे जाने का वीडियो सामने आया है. साथ ही वायरल वीडियो (Viral Video) में यह भी आरोप लग रहे हैं कि पुलिसकर्मियों ने महिला के पेट में भी लात मारी है. फेसबुक (Facebook) पर शेयर होते ही वीडिया वायरल हो गया.

कानपुर के चमनगंज की है घटना

रामपुर के आरटीआई एक्टिविस्ट दानिश खान ने वीडियो शेयर करते हुए लिखा है कि उनके दोस्त की पत्नी परिवार के संग कहीं जा रहीं थी. तभी रास्ते में चेकिंग के दौरान सभी लोगों को रोक लिया गया. आरोप है कि कागज दिखाने और पूछताछ के दौरान पुलिस ने परिवार के युवक की पिटाई कर दी. गंदी-गंदी गालियां दी गईं. आरोप यह भी लगा है कि साथ में मौजूद महिला के पेट में लात मारी गई. इस घटना का वीडियो भी बना है. वीडियो में एक युवक पुलिसकर्मियों से पूछ रहा है कि आप चेकिंग के दौरान ऐसे किस तरह किसी के साथ पिटाई कर सकते हैं. लेकिन वीडियो में पुलिसकर्मी जवाब देने के बजाए यहां-वहां किनारे से जा रहे हैं.

सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद यूपी पुलिस के आला अफसर हरकत में आ गए.

ADG और IG कानपुर ने लिया संज्ञान

जैसे ही सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल हुआ और ट्विटर पर पुलिस अफसरों को भी भेजा गया तो फौरन ही एडीजी और आईजी कानपुर का जवाब आ गया. उन्होंने पूरे मामले को देखने के निर्देश जारी किए. इस बारे में आरटीआई एक्टिविस्ट दानिश खान ने न्यूज18 हिंदी को बताया, “उन्हें कानपुर से जानकरी मिली है कि संबंधित आरोपी पुलिस कर्मी के खिलाफ कार्रवाई कर दी गई है. वहीं सीएम योगी ने भी इस मामले पर नाराज़गी जाहिर की है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *