उत्तर प्रदेश के गोंडा के तिर्रेमनोरमा के पूर्व ग्राम प्रधान अमर सिंह को फंसाने को लेकर रामजानकी मंदिर के महंत ने मौजूदा ग्राम प्रधान के संग मिलकर पुजारी पर फायरिंग की साजिश रची थी। इतना ही नहीं साजिश में हमले में जख्मी हुआ पुजारी भी शामिल था। पुलिस ने शुक्रवार की देर रात आरोपी महंत, ग्राम प्रधान उसके बेटे समेत सात लोगों को गिरफ्तार कर इसका खुलासा किया है। पकड़े गए आरोपियों के पास से पुलिस ने तीन तमंचा, तीन जिन्दा कारतूस, एक खोखा कारतूस व चार मोबाइल बरामद किया है।
 पुलिस की गिरफ्त में आरोपी2 of 6पुलिस की गिरफ्त में आरोपी – फोटो : अमर उजालाबता दें कि तिर्रेमनोरमा में रामजानकी मंदिर के पुजारी अतुल त्रिपाठी उर्फ सम्राट दास को 10 अक्तूबर की आधी रात मंदिर के अंदर गोली मार दी गई थी। पुजारी को जिला अस्पताल से लखनऊ रेफर कर दिया गया था। मामले में मंदिर के महंत वृन्दाशरण त्रिपाठी उर्फ सीताराम दास ने तिर्रेमनोरमा के पूर्व ग्राम प्रधान अमर सिंह समेत चार लोगों के खिलाफ थाना इटियाथोक में जानलेवा हमले की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस ने दो अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया था। 
पुजारी अतुल बाबा3 of 6पुजारी अतुल बाबा – फोटो : अमर उजालाएसपी शैलेश कुमार पांडेय ने बताया कि विवेचना के दौरान सर्विलांस से मिले साक्ष्यों और गवाहों के बयान के बाद शुक्रवार की रात तिर्रेमनोरमा गांव में एक बाग से पुलिस ने आरोपी वृन्दाशरण त्रिपाठी उर्फ सीताराम दास, विपिन द्विवेदी उर्फ छोटू निवासी गुड़ थाना गुड़ जनपद रीवां मध्यक्ष प्रदेश, विनय कुमार सिंह, उसके बेटे नीरज सिंह निवासी तिर्रेमनोरमा, तिर्रेमनोरमा के ही निवासी मुन्ना सिंह, सोनू सिंह व शिवशंकर सिंह को गिरफ्तार कर लिया।एसपी ने बताया कि पकड़े गए लोगों के पास से 315 बोर का तीन तमंचा, तीन जिन्दा कारतूस, एक खोखा कारतूस व चार मोबाइल फोन मिले हैं। एसपी ने बताया कि पकड़े गए आरोपियों में सीताराम दास ने बताया कि अमर सिंह से मंदिर की 120 बीघा जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। 

By S.P. Singh

Senior Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *