उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगामी पर्व दुर्गा पूजा, दशहरा, दीवाली, छह पूजा को ध्यान में रखते हुए विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश देते हुए कहा कि त्योहारों को घर पर रह ही मनाया जाए और कोई सार्वजनिक आयोजन न किया जाए।

योगी गुरूवार को यहां लोक भवन में एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि आगामी पर्वों को ध्यान में रखते हुए लोगों को कोविड-19 से बचाव के बारे में विशेष रूप से जागरूक किया जाए। त्योहारों को घर पर ही मनाया जाए। कोई सार्वजनिक आयोजन न किया जाए।

त्योहारों को मनाने में कोविड-19 के प्रोटोकॉल के पूर्ण पालन तथा सोशल डिस्टेंसिंग अपनाने के सम्बन्ध में लोगों को जानकारी दी जाए। उन्होंने कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग तथा मास्क के उपयोग के सम्बन्ध में प्रवर्तन कार्रवाई को पूरी सक्रियता से संचालित किया जाए। आवश्यकतानुसार माइक्रो कन्टेनमेन्ट जोन स्थापित किए जाएं। यह सुनिश्चित किया जाए कि पब्लिक एड्रेस सिस्टम पूरी तरह सक्रिय रहें और इनके माध्यम से कोरोना से बचाव तथा यातायात सुरक्षा के बारे में लोगों को जागरूक किया जाए।

योगी ने कहा कि कोविड-19 के उपचार सम्बन्धी औषधियों, टेस्टिंग किट्स तथा बचाव में इस्तेमाल होने वाली सामग्री जैसे मास्क, ग्लव्स, पीपीई किट तथा सेनिटाइजर आदि की पयार्प्त एवं सुचारु व्यवस्था बनाए रखी जाए। स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्थिति का आकलन करते हुए आने वाले समय की जरूरतों के अनुरूप सभी व्यवस्थाएं समय से सुनिश्चित कराई जाएं।

उन्होंने स्वच्छता एवं सेनिटाइजेशन कार्य को निरन्तरता प्रदान किए जाने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी योजना तथा अमृत योजना की प्रगति की नियमित समीक्षा की जाय। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा घोषित विशेष आर्थिक पैकेज का पूरा लाभ प्राप्त करने के लिए योजनाबद्ध ढंग से कार्रवाई की जाए। अधिक से अधिक कामगारों, स्ट्रीट वेण्डरों को ऋण प्रदान कर लाभान्वित किया जाए।

एमएसएमई इकाइयों को पैकेज के माध्यम से लोन उपलब्ध कराने की कार्रवाई प्रभावी ढंग से की जाए। उन्होंने बुन्देलखण्ड क्षेत्र में गौ संरक्षण केन्द्रों को सुचारु रूप से क्रियाशील रखे जाने के निर्देश भी दिए।

By S.P. Singh

Senior Journalist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *