बानी परिवार भी नीता के पिता रविंद्रभाई दलाल का काफी सम्मान करता रहा है। बीते साल मुकेश अंबानी के बेटे आकाश अंबानी ने विवाह से पहले दादा धीरूभाई अंबानी के साथ ही रविंद्रभाई दलाल को भी श्रद्धांजलि दी थी।

देश के सबसे रईस शख्स मुकेश अंबानी के परिवार के बारे में अकसर चर्चा होती है, लेकिन उनकी पत्नी नीता अंबानी की फैमिली को लेकर शायद ही कभी बात होती हो। खासतौर पर मीडिया की चर्चा से नीता अंबानी का परिवार हमेशा ही दूर रहा है। देश की सबसे प्रभावशाली महिलाओं में से एक नीता अंबानी पर अपने पिता रविंद्रभाई दलाल का गहरा असर रहा है। She Walks She Leads पुस्तक के मुताबिक सेवा का जो भाव नीता अंबानी के भीतर दिखता है, वह उन्हें पिता से विरासत के तौर पर मिला है। वह अकसर ही रविवार को पिता संग समाज के गरीब तबके के लोगों को खाना वितरित करने के लिए जाती थीं।

इसके अलावा उन्हें आवारा पशुओं और पक्षियों को भी खिलाना पसंद था। अकसर खाली होने पर वह इसी काम में जुट जाते थे। नीता के पिता रविंद्रभाई दलाल बिड़ला समूह में वरिष्ठ अधिकारी के तौर पर काम करते थे। जॉइंट फैमिली में पली-बढ़ीं नीता अंबानी में सामाजिकता के गुण हमेशा से ही थे, जो शायद परिवार के संस्कारों के चलते ही आए। नीता अंबानी की मुकेश अंबानी से शादी की कहानी भी बेहद दिलचस्प है।

धीरूभाई अंबानी ने फोन कर नीता को बुलाया था: दरअसल एक इवेंट में कोकिलाबेन अंबानी ने नीता को देखा था और उन्हें मन ही मन उन्हें अपनी बहू बनाने का फैसला लिया। यह बात उन्होंने धीरूभाई अंबानी से जाकर कही तो उन्होंने सीधे रविंद्रभाई दलाल के घर फोन किया और नीता अंबानी को अपने घर बुलाया था। कहा जाता है कि धीरूभाई अंबानी ने नीता अंबानी से पूछा था कि क्या वह उनके बेटे मुकेश अंबानी से शादी करना चाहती हैं।

अंबानी फैमिली में भी है रविंद्रभाई का सम्मान: अंबानी परिवार भी नीता के पिता रविंद्रभाई दलाल का काफी सम्मान करता रहा है। बीते साल मुकेश अंबानी के बेटे आकाश अंबानी ने विवाह से पहले दादा धीरूभाई अंबानी के साथ ही रविंद्रभाई दलाल को भी श्रद्धांजलि दी थी। उन्होंने अपने दादा और नाना की तस्वीरों पर टीका लगाया और पूजा करने के बाद आशीर्वाद लिया। रविंद्रभाई दलाल का 2014 में निधन हो गया था। उनका अंतिम संस्कार भी मुकेश अंबानी के बेटे आकाश अंबानी और अनंत अंबानी ने किया था।